Drop Us An Email Any Enquiry Drop Us An Email info@e-webcareit.com
Call Us For Consultation Call Us For Consultation +91 9818666272

Om Bhur Bhuva Swaha Gayatri Mantra Lyrics | अंग्रेजी और हिंदी | गायत्री मंत्र

Gayatri Mantra

Om Bhur Bhuva Swaha Gayatri Mantra Lyrics | अंग्रेजी और हिंदी | गायत्री मंत्र

गायत्री महामंत्र वेदों का एक महत्वपूर्ण मंत्र है, जिसका महत्व लगभग ओम के बराबर माना जाता है। यह यजुर्वेद के मंत्र ‘ओम भुर्भुवाहः’ और ऋग्वेद के श्लोक 3.62.10 का मेल है। इस मंत्र में सावित्री देव की पूजा की जाती है, इसलिए इसे सावित्री भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने और इसे समझने से व्यक्ति को ईश्वर की प्राप्ति होती है। इसकी पूजा श्री गायत्री देवी के स्त्री रूप में भी की जाती है।

गायत्री भी एक श्लोक है जो 24 मात्राओं 8+8+8 के योग से बना है। गायत्री ऋग्वेद के सात प्रसिद्ध श्लोकों में से एक है। इन सात श्लोकों के नाम हैं- गायत्री, उष्निक, अनुष्टुप, बृहति, विराट, त्रिष्टुप और जगती। गायत्री छंद में आठ-आठ अक्षरों के तीन चरण होते हैं। त्रिष्टुप को छोड़कर ऋग्वेद में गायत्री छंदों की संख्या सबसे अधिक है। गायत्री में तीन श्लोक हैं (त्रिपद वै गायत्री)। इसलिए जब श्लोक या वाणी के रूप में सृष्टि के प्रतीक की कल्पना की गई, तब इस जगत को त्रिपाद गायत्री का रूप माना गया। जब गायत्री के रूप में जीवन की प्रतीकात्मक व्याख्या शुरू हुई, तब गायत्री श्लोकों के बढ़ते महत्व के अनुसार एक विशेष मंत्र की रचना की गई, जो इस प्रकार है:

gayatri mantra

तत् सवितुर्वरेण्यं। भर्गोदेवस्य धीमहि। धियो यो न: प्रचोदयात्। (ऋग्वेद ३,६२,१०)
गायत्री ध्यानम्
मुक्ता-विद्रुम-हेम-नील धवलच्छायैर्मुखस्त्रीक्षणै-

र्युक्तामिन्दु-निबद्ध-रत्नमुकुटां तत्त्वार्थवर्णात्मिकाम्‌ ।

गायत्रीं वरदा-ऽभयः-ड्कुश-कशाः शुभ्रं कपालं गुण।

शंख, चक्रमथारविन्दुयुगलं हस्तैर्वहन्तीं भजे ॥

अर्थात मोती, मूंगा, सोना, नीलम और हीरा आदि जिनका मुख रत्नों की तेज आभा से हर्षित होता है। चंद्रमा के आकार के रत्न जिनके मुकुट में लगे होते हैं। जो स्वयं तत्व का बोध कराने वाले पात्र हैं। हम गायत्री देवी का ध्यान करते हैं, जिनके हाथों में अंकुश, अभय, चाबुक, कपाल, वीणा, शंख, चक्र, कमल दोनों हाथों में वरद मुद्रा के साथ हैं। (डॉ. राममिलन मिश्रा)

Om Bhur Bhuva Swaha Lyrics (हिंदी और अंग्रेजी)

इस मंत्र को गायत्री मंत्र के रूप में जाना जाता है, और यह एक पवित्र मंत्र है जो उस एकता को प्रदर्शित करता है जो सृष्टि में कई गुना है। इस एकता की मान्यता से ही हम बहुलता को समझ सकते हैं।

गायत्री मंत्र को सावित्री मंत्र के नाम से भी जाना जाता है। यह वेदों में निहित एक सार्वभौमिक प्रार्थना है। यह आसन्न और पारलौकिक परमात्मा को संबोधित है जिसे ‘सविता’ नाम दिया गया है।

गायत्री मंत्र – ओम भुर भुव स्वाहा अनुवाद, अर्थ और महत्व के साथ।

ओम भुर भुवा स्वाहा (गायत्री मंत्र) Lyrics in Hindi (देवनागरी लिपि)

ॐ भूर् भुवः स्वः।
तत् सवितुर्वरेण्यं।
भर्गो देवस्य धीमहि।
धियो यो नः प्रचोदयात् ॥

Om Bhur Bhuva Swaha lyrics in English

Om bhur bhuvaha svaha
Tat savitur varenyam
Bhargo devasya dhimahi
Dhiyo yo nah prachodayat

विस्तार-पूर्वक अर्थ

हे प्रभु! आप हमारे जीवन के दाता हैं
आप हमारे दुख़ और दर्द का निवारण करने वाले हैं
आप हमें सुख़ और शांति प्रदान करने वाले हैं
हे संसार के विधाता
हमें शक्ति दो कि हम आपकी उज्जवल शक्ति प्राप्त कर सकें
क्रिपा करके हमारी बुद्धि को सही रास्ता दिखायें |

गायत्री-मन्त्र के शब्दों के अर्थ
ॐ = प्रणव
भूर = मनुष्य को प्राण प्रदाण करने वाला
भुवः = दुख़ों का नाश करने वाला
स्वः = सुख़ प्रदाण करने वाला
तत = वह, सवितुर = सूर्य की भांति उज्जवल
वरेण्यं = सबसे उत्तम
भर्गो = कर्मों का उद्धार करने वाला
देवस्य = प्रभु
धीमहि = आत्म चिंतन के योग्य (ध्यान)
धियो = बुद्धि,
यो = जो,
नः = हमारी,
प्रचोदयात् = हमें शक्ति दें [प्रार्थना]


3 thoughts on “Om Bhur Bhuva Swaha Gayatri Mantra Lyrics | अंग्रेजी और हिंदी | गायत्री मंत्र”

    1. It is difficult to translate Gayatri Mantra accurately into English. Vaguely it goes like this
      Gayatri Mantra protects Gaya ( Pran Life force / energy).
      Let my intellect ( Buddhi ) illuminate in light of knowledge ( Dnyan )
      Dnyan is information acquired through five sense organs ( Panch Dnyanendriya).
      Dnyan is converting the information registered through sense organs in harmonious blend that constructively leads one on path of universal truth without any mental , emotional diversion.
      In other words one becomes a pradnyavant by striving consciously for Dnyan.
      This may be meaning of Gayatri Mantra to best of my understanding of it.
      Perhaps some one can definitely improve on it with crystal clarity.
      Baba

Leave a Reply

Get the Latest Update and news about around India or the world

Call Us On  Whatsapp
en English
X
%d bloggers like this: