Breaking News
prev next
Drop Us An Email Any Enquiry Drop Us An Email info@e-webcareit.com
Call Us For Consultation Call Us For Consultation +91 9818666272

#1Black Friday Facts: क्या है ब्लैक फ्रायडे का इतिहास? हर साल 29 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है ये दिन

Black Friday

#1Black Friday Facts: क्या है ब्लैक फ्रायडे का इतिहास? हर साल 29 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है ये दिन

Black Friday:(ब्लैक फ्रायडे)
नई दिल्ली। हर तरह के त्योहारों से तो लोग वाकिफ हैं, लेकिन ब्लैक फ्राइडे के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। गुड फ्राइडे के बारे में भारतीय अच्छी तरह से जानते हैं लेकिन हर कोई नहीं जानता कि ब्लैक फ्राइडे क्यों मनाया जाता है। अब जब हम ऑनलाइन स्टोर्स पर ब्लैक फ्राइडे सेल के बारे में सुन रहे हैं, तो इसके बारे में जानना जरूरी है।

तो आइए जानते हैं कि ब्लैक फ्राइडे सिर्फ 29 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है और इसके पीछे की कहानी क्या है। दरअसल, 29 नवंबर को दो तरह से पहचाना जाता है, पहला- यह दिन अगले महीने आने वाले ईसाइयों के पवित्र त्योहार क्रिसमस की खरीदारी के लिए जाना जाता है। दूसरा कारण इस खरीद से जुड़ा है और दुखद है। जिसके कारण इस दिन को ब्लैक फ्राइडे कहा जाता है।

सामानों पर मिलती है भारी छूट

यह दिन पहले केवल अमेरिका और कनाडा जैसे देशों में मनाया जाता था, लेकिन तकनीक के बढ़ते प्रवाह के कारण अब बाकी दुनिया भी इसे मना रही है। इस दिन दुनिया की बड़ी-बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियां क्रिसमस की खरीदारी को लेकर छूट भी देती हैं।

11 साल पहले हुई थी दर्दनाक घटना,

ये कहानी करीब 11 साल पुरानी है, साल 2008 में न्यूयॉर्क के वैली स्ट्रीम मॉल में भारी डिस्काउंट पर सामान मिल रहा था. जिसके लिए दो हजार से ज्यादा लोगों की भीड़ जमा हो गई। काफी देर तक लोग अंदर जाने का इंतजार करते रहे और गेट खुला तो भीड़ बेकाबू हो गई। इसी दौरान भीड़ ने एक 34 वर्षीय महिला को कुचलते हुए आगे बढ़ाया। जब तक सुरक्षा गार्डों ने महिला को भीड़ से बाहर निकाला तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

एक मॉल में हुई थी हाथापाई,

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शॉपिंग के दिन हुई ये अकेली दुखद घटना नहीं है। 2006 में, Roanoke VA में बेस्ट बॉय की खरीदारी के दौरान दो लोगों के बीच हाथापाई हो गई। यह पूरी घटना यहां के कैमरे में रिकॉर्ड हो गई और वीडियो काफी देर तक वायरल रहा। इसी तरह कैलिफोर्निया के एक मॉल में उसी दिन जब गिफ्ट के लिए सर्टिफिकेट बांटे जा रहे थे तो उस पर भीड़ लग गई और 9 लोग घायल हो गए. बताया जाता है कि घायलों में एक महिला की भी मौत हो गई थी।

Black-Friday-sale
Black-Friday-sale

अमेरिका में शुरू हुई सेल

हालांकि अगर बिक्री की बात करें तो ब्लैक फ्राइडे नाम की बिक्री अमेरिका में ही शुरू हो गई थी। वहीं, भारत में इस तरह की सेल की शुरुआत ईबे शॉपिंग साइट ने 2018 में की थी। लोग इस दिन का काफी पहले से इंतजार करने लगते हैं, ताकि सामान पर भारी छूट का फायदा उठा सकें। इस बार भी Amazon, eBay और Flipkart जैसी कंपनियों ने सामानों पर भारी छूट की पेशकश की है।

ब्लैक फ्राइडे मूल रूप से किसके लिए उपयोग किया जाता था?

शुरुआत में ब्लैक फ्राइडे शब्द का इस्तेमाल वित्तीय संकट के लिए किया गया था। इसका बिक्री या खरीदारी से कोई लेना-देना नहीं था। कहानी कुछ इस प्रकार है। वॉल स्ट्रीट के दो सबसे बड़े फाइनेंसर जिम फिस्क और जे गोल्ड थे। दोनों ने मिलकर बड़ी मात्रा में सोना खरीदा। उन्हें उम्मीद थी कि कीमत में काफी वृद्धि होगी, जिससे उन्हें भारी मुनाफा होगा। लेकिन हुआ ऐन उलटा। 24 सितंबर, 1869 को शुक्रवार को अमेरिकी सोना बाजार ढह गया। फिस्क और गोल्ड दिवालिया हो गए।

इसका अमेरिकी दुकानदारों के खातों से क्या लेना-देना था?

बात उन दिनों की है जब अमेरिका में दुकानदार अपना हिसाब हाथ से लिखा करते थे। वह लाभ को काले अक्षरों में और हानि को लाल रंग में लिखता था। ऐसा माना जाता है कि ज्यादातर दुकानें साल भर ‘लाल’ रहती थीं लेकिन थैंक्सगिविंग डे के बाद ‘काली’ हो गईं। इसका कारण यह था कि थैंक्सगिविंग डे के बाद बड़ी संख्या में ग्राहक खरीदारी करते थे।

पुलिस अधिकारियों ने इस शब्द का प्रयोग क्यों किया?

ब्लैक फ्राइडे शब्द का इस्तेमाल पहली बार 1950 के दशक में फिलाडेल्फिया के पुलिस अधिकारियों द्वारा किया गया था। थैंक्सगिविंग डे के बाद शहर में खरीदारी के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी, जिससे सड़कों पर अफरा-तफरी मच गई, सड़कों पर जाम लग गया और कई बार तो दुकानों में लूटपाट भी हो गई. पुलिस अधिकारी उस दिन छुट्टी नहीं ले सकते थे और उन्हें लंबे समय तक काम करना पड़ता था। इस वजह से वह इस दिन को ‘ब्लैक फ्राइडे’ कहने लगे।

किस विज्ञापन ने लोकप्रिय बनाया Black Friday

1966 में, एक अमेरिकी पत्रिका में एक विज्ञापन छपा जिसमें ब्लैक फ्राइडे शब्द का इस्तेमाल किया गया था। बाद में 80 के दशक में, यह शब्द दुनिया भर में फैल गया, और खुदरा विक्रेताओं ने तुरंत इसे अपने धन्यवाद दिवस की बिक्री के बाद जोड़ा।

यह सिलसिला चलता रहा और बीसवीं सदी में इस दिन की लोकप्रियता काफी बढ़ गई और इस दिन को ब्लैक फ्राइडे का नाम मिला। स्थानीय पुलिस द्वारा पहली बार 1950 में इस शब्द का इस्तेमाल किया गया था और 1980 तक यह शब्द काफी लोकप्रिय हो गया था। हालांकि नकारात्मक भावनाओं को नजरअंदाज करने के लिए दुकानदारों ने इसे बदलकर बिग फ्राइडे करने की मांग की, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.
अब सिर्फ अमेरिका ही नहीं, ब्लैक फ्राइडे एक अंतरराष्ट्रीय त्योहार बन गया है, जिसमें कई देशों की कंपनियां भाग लेती हैं और ग्राहक अपनी पसंदीदा चीजें खरीदते हैं।


Leave a Reply

Get the Latest Update and news about around India or the world

Call Us On  Whatsapp
en English
X
%d bloggers like this: