Drop Us An Email Any Enquiry Drop Us An Email info@e-webcareit.com
Call Us For Consultation Call Us For Consultation +91 9818666272

मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने शनिवार को मुख्यमंत्री आवास में मुख्य सचिव सहित शासन के उच्चाधिकारियों के साथ कुम्भ मेला की व्यवस्थाओं की समीक्षा की

new chief minister of uttarakhand tirath singh rawat

मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने शनिवार को मुख्यमंत्री आवास में मुख्य सचिव सहित शासन के उच्चाधिकारियों के साथ कुम्भ मेला की व्यवस्थाओं की समीक्षा की

शनिवार को मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश सहित सरकार के उच्च अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री आवास के कार्यालय कक्ष में कुंभ मेले की व्यवस्थाओं की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि विदेशों में करोड़ों लोगों की आस्था हर 12 साल बाद होने वाले कुंभ मेले से जुड़ी है। कुंभ स्नान के लिए आने वाले भक्तों को बिना किसी असुविधा के एक सुखद संदेश देना चाहिए, यह हम सभी की जिम्मेदारी है।

इसके लिये सभी अधिकारी आपसी समन्वय एवं समयबद्धता के साथ कुम्भ की व्यवस्थाओं को सुव्यवस्थित करायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुम्भ के प्रति लोगों में सकारात्मक संदेश जाय इसके भी प्रयास किये जायें। कुम्भ मेले में कोविड के नियमों का अनुपालन के साथ अधिक से अधिक श्रद्धालु इसमें शामिल हों यह हमारा उद्देश्य होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि कुम्भ क्षेत्र की सड़कों की मरम्मत के साथ ही सड़कों पर पड़ी निर्माण सामग्री को तुरंत हटाया जाय।

new chief minister of uttarakhand tirath singh rawat

कुंभ क्षेत्र की सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश देते हुए उन्होंने इसके लिए पर्याप्त सफाई निरीक्षकों और सफाई कर्मियों की तैनाती सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता भी स्वास्थ्य का विषय है, इसलिए कुंभ क्षेत्र में स्वच्छता और पर्याप्त शौचालयों की व्यवस्था की जानी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में आने वाले शंकराचार्यों और बैरागी अखाड़ों को भूमि प्रदान करने का निर्देश दिया, और उन क्षेत्रों में आवश्यक अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर भी ध्यान देने की बात कही।

मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह ने भी कुंभ मेले की व्यवस्थाओं के लिए आवश्यक अतिरिक्त अधिकारियों को तैनात करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा, अगर कुंभ के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की जानी है, तो उसका प्रस्ताव दो दिनों के भीतर सरकार को उपलब्ध कराया जाना चाहिए। उन्होंने विभागीय सचिवों को व्यक्तिगत रूप से कुंभ कार्यों की समीक्षा करने और स्थलीय निरीक्षण करने का भी निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री ने कुंभ मेले में सुरक्षा की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि आने वाले शाही स्नान में शिवरात्रि पर्व की व्यवस्थाओं से बेहतर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने पर ध्यान दिया जाना चाहिए। बैठक में सचिव श्री शैलेश बगोली ने बताया कि कुंभ मेले की व्यवस्थाओं के तहत, 661 करोड़ के 203 निर्माण कार्य किए जा रहे हैं।

haridwar kumbh mela 2021

स्थायी प्रकृति के अधिकांश कार्य पूर्ण हो चुके हैं, जबकि अस्थायी निर्माण कार्य तीव्र गति से किए जा रहे हैं। मेला अधिकारी श्री दीपक रावत ने कुंभ मेले की व्यवस्थाओं से संबंधित कार्यों की प्रस्तुति के माध्यम से जानकारी दी। जबकि आई.जी. मेला श्री संजय गुंज्याल द्वारा सुरक्षा व्यवस्था से सम्बन्धित प्रस्तुतीकरण दिया गया। बैठक में पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार, प्रमुख सचिव श्री आनंदवर्द्धन, श्री आरके सुधांशु, सचिव श्री अमित नेगी, श्री नितेश झा, श्रीमती राधिका झा, श्री दिलीप जावलकर, श्रीमती सौजन्या, आयुक्त गढ़वाल श्री रविनाथ रमन, महानिदेशक सूचना डॉ मेहरबान सिंह बिष्ट सहित शासन के सभी वरिष्ठ अधिकारी एवं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिलाधिकारी हरिद्वार, देहरादून, टिहरी एवं पौड़ी भी उपस्थित रहे। सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग


Leave a Reply

Get the Latest Update and news about around India or the world

Call Us On  Whatsapp
%d bloggers like this: