Drop Us An Email Any Enquiry Drop Us An Email info@e-webcareit.com
Call Us For Consultation Call Us For Consultation +91 9818666272

फिर फंसे राहुल गांधी: अब वीर सावरकर के पोते बोले- माफी मांग लो, नहीं तो दर्ज होगी FIR

Rahul gandhi on veer savarkar

फिर फंसे राहुल गांधी: अब वीर सावरकर के पोते बोले- माफी मांग लो, नहीं तो दर्ज होगी FIR

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं। पहले मोदी सरनेम मामले में राहुल गांधी को दो साल की सजा हुई, फिर उनकी संसद की सदस्यता चली गई. अब राहुल पर एक और मुकदमे की तलवार लटकने लगी है. इस बार वीर सावरकर के पोते ने राहुल को दो टूक कह दिया है कि अगर सावरकर पर की गई विवादित टिप्पणी के लिए वह माफी नहीं मांगते हैं तो उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाएगी.

हिंदुत्व विचारक वीर दामोदर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान पर नाराजगी जताई और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की। सावरकर ने कहा, राहुल गांधी को सबूत देना चाहिए कि सावरकर ने अंग्रेजों से माफी मांगी थी.

रंजीत सावरकर ने कहा, राहुल गांधी कह रहे हैं कि वह माफी नहीं मांगेंगे क्योंकि वह सावरकर नहीं हैं. मैं उन्हें सावरकर की माफी का कोई सबूत दिखाने की चुनौती देता हूं।

सावरकर ने और क्या कहा?

वीर दामोदर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने कहा, ‘राहुल गांधी द्वारा सावरकर का नाम राजनीति के लिए कैसे बदनाम किया जा रहा है, यह देखकर वाकई दुख होता है. ऐसा लगता है कि वे मुसलमानों का भी ध्रुवीकरण कर रहे हैं। महाराष्ट्र में भी सावरकर के नाम पर राजनीति की जा रही है. मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप अपने फायदे के लिए सावरकर के नाम का इस्तेमाल न करें।

उन्होंने आगे संजय राउत, उद्धव ठाकरे और शरद पवार का जिक्र किया। कहा, ‘संजय राउत और उद्धव ठाकरे के मन में सावरकर के लिए सम्मान हो सकता है, लेकिन जब तक वे सावरकर के लिए अपना समर्थन नहीं दिखाते, इसका कोई मतलब नहीं है। अल्टीमेटम देने के बाद भी कांग्रेस नहीं रुकी और उन्होंने (उद्धव ठाकरे गुट) कांग्रेस को अभी तक नहीं तोड़ा है। इसी तरह शरद पवार जी भी सावरकर का बहुत सम्मान करते हैं, लेकिन उन्हें आगे बढ़कर राहुल गांधी से सावरकर पर अब तक के अपने बयानों के लिए माफी मांगने को कहना चाहिए.’

राहुल ने कहा था, सावरकर माफी मांगने वालों में से नहीं हैं

राहुल गांधी ने 25 मार्च को प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। राहुल गांधी ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था, वे सरकार से नहीं डरेंगे, सरकार उन्हें डरा नहीं सकती. उन्होंने सूरत में आपराधिक मानहानि मामले में सरकार से माफी नहीं मांगी है क्योंकि उनका नाम गांधी है, सावरकर नहीं और गांधी किसी से माफी नहीं मांगते। उनके इस बयान पर सावरकर के पोते ने मांग की कि राजनीति चमकाने के लिए देशभक्तों के नाम का इस्तेमाल करना गलत है और इस मामले पर कार्रवाई होनी चाहिए.


Leave a Reply

Latest News in hindi

Call Us On  Whatsapp