Drop Us An Email Any Enquiry Drop Us An Email info@e-webcareit.com
Call Us For Consultation Call Us For Consultation +91 9818666272

Uttarakhand News: दरोगा की धांधली के मामले में 2015 में हुई बड़ी कार्रवाई, पुलिस मुख्यालय ने 20 दरोगाओं को किया सस्पेंड

Uttarakhand News: दरोगा की धांधली के मामले में 2015 में हुई बड़ी कार्रवाई, पुलिस मुख्यालय ने 20 दरोगाओं को किया सस्पेंड

Uttarakhand News:दारोगा भारती 2015: 2015 की सिपाही भर्ती में 20 आरक्षकों को झटका लगा है. पुलिस मुख्यालय की ओर से सभी जिला प्रभारियों को 2015 में 20 दरोगाओं को निलंबित करने के आदेश जारी किए जा चुके हैं.

Uttarakhand SI Recruitment 2015

20 आरक्षकों को 1000 रुपये देकर भर्ती किया गया।

प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई है कि 20 आरक्षकों को 1000 रुपये का भुगतान कर भर्ती किया गया था। बता दें कि साल 2015 में 339 कांस्टेबलों की भर्ती हुई थी. यूकेएसएसएससी भर्ती घोटाले की जांच के बाद गिरफ्तार ठगी माफिया से एसटीएफ ने पूछताछ की तो इंस्पेक्टर भर्ती में फर्जीवाड़ा होने की बात सामने आई।

भर्ती मुख्यमंत्री हरीश रावत के कार्यकाल में हुई थी

करीब आठ साल पहले साल 2015 में हुई यह भर्ती तत्कालीन कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री हरीश रावत के कार्यकाल में हुई थी. इंस्पेक्टर के 339 पदों पर सीधी भर्ती परीक्षा की जिम्मेदारी गोविंद बल्लभ पंत विश्वविद्यालय पंतनगर को दी गई है. उस दौरान भी भर्ती में धांधली के आरोप लगे थे, लेकिन सरकार द्वारा जांच नहीं कराने के कारण मामले को दबा दिया गया था.

पंतनगर विश्वविद्यालय के एक सेवानिवृत्त अधिकारी को गिरफ्तार किया गया

यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षा के घोटाले में पंतनगर विश्वविद्यालय के एक सेवानिवृत्त अधिकारी को भी गिरफ्तार किया गया था, जिसके तार नकल माफिया हकम सिंह रावत से जुड़े थे. जब गहनता से जांच की गई तो पता चला कि इन दोनों ने इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में भी गड़बड़ी की थी.


Leave a Reply

Latest News in hindi

Call Us On  Whatsapp